एसडीजीआई ग्लोबल यूनिवर्सिटी में बच्चों को दिलाई गई नशे से दूर रहने की शपथ

गाजियाबाद। डासना स्थित एसडीजीआई ग्लोबल यूनिवर्सिटी में सोमवार को नशा मुक्ति केंद्र का आयोजन किया गया। इस अवसर पर थाना वेव सिटी से उप निरीक्षक चौकी इन्चार्ज भानु प्रताप सिंह एवं राजेन्द्र प्रसाद ने स्वयं यूनिवर्सिटी में आकर नशा मुक्ति के लिए संकल्प कराया। इस अवसर पर एसडीजीआई ग्लोबल यूनिवर्सिटी के प्रो वाइस चांसलर पीयूष श्रीवास्तव, आई.जी. पुलिस (सेवा निवृत) एंव सुभाष शर्मा (चीफ एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर) भी उपस्थित थे। उप निरीक्षक चौकी इन्चार्ज भानु प्रताप सिंह ने कहा युवा देश का भविष्य हैं। ऐसे में हमें युवाओं को नशे की लत से दूर रखना है। अंत में जन-जन का संदेश, नशा मुक्त हो हमारा देश के लिए प्रेरित किया गया। उन्होंने बताया कैसे अधिकांश अपराधों की जड़ नशा है और कैसे हम नशे से दूर रहकर अपने भविष्य को बेहतर बना सकते हैं।

नशा व्यक्ति को ही नहीं पूरे राष्ट्र को नुकसान पहुंचाता है, यह राष्ट्रीय निर्माण में बहुत बड़ा बाधक है। युवाओं को चाहिए कि वे नशे से दूर रह कर समाज व राष्ट्र के नव निर्माण में अपना योगदान दें। प्रो वाइस चांसलर पीयूष श्रीवास्तव ने कहा नशे के सौदागरों को हमेशा के लिए खत्म करने का पुलिस विभाग द्वारा अथक प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज के आधुनिक दौर में युवाओं का नशे की तरफ रुझान बढ़ रहा है, जो बहुत ही गंभीर ङ्क्षचता का विषय है। युवा जिसे हम देश की शक्ति मानते है और जिस पर देश का उज्जवल भविष्य टिका है, युवा को नशे की गर्दिश में फंसना समाज व राष्ट्र के नवनिर्माण में बाधा उत्पन्न करता है।